Thu. Oct 22nd, 2020

Program on Healing the Healer

आज डॉक्टर्स ट्रीटमेंट में बहुत आगे जा रहे हैं, लेकिन इसके साथ साथ उनके जीवन में स्ट्रेस भी बढ़ता जा रहा है जिसकी वजह से डॉक्टर्स पेशेंट को सही तरीके से हील नहीं कर पा रहे हैं ऐसे में डॉक्टर्स को अपनी आंतरिक शक्तियों को बढ़ाना चाहिए। जो कि सकारात्मक सोच व राजयोग से ही संभव है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए कोलकाता के बांगुर एवेन्यू सेवाकेंद्र द्वारा साइंस सिटी में विशेष डॉक्टर्स के लिए हीलिंग द हीलर विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन पश्चिम बंगाल की महिला एवं बाल विकास और समाज कल्याण मंत्री डॉ शशि पंजा, मेडिकल विंग के कार्यकारी सचिव बीके डॉ. बनारसी लाल शाह, मुख्य वक्ता के तौर पर मौजूद जीवन प्रबंधन विशेषज्ञ बीके शिवानी, दिल्ली से आए जीबी पंत हॉस्पिटल के कार्डियोलॉजिस्ट बीके डॉ. मोहित गुप्ता, बांगुर एवेन्यू सेवाकेंद्र प्रभारी बीके मधु, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके अस्मिता और बीके पदमा ने दीप जलाकर किया।
कार्यक्रम की शुरूआत में वीडियो के द्वारा संस्था प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी जी का शुभकामना संदेश दिखाया गया। जिसमें उन्होंने सदा राज़ी रहने व दूसरों को भी राज़ी रखने की बात कही। हीलिंग द हीलर विषय पर आयोजित इस विशाल कार्यक्रम में चिकित्सकों को संबोधित करते हुए बीके शिवानी ने कहा कि जब हम मेडिटेशन से अपनी आंतरिक शक्तियों को बढ़ाएंगे तब ही हम दूसरों की निगेटिव एनर्जी के प्रभाव को कम कर सकेंगे और पॉज़ीटिव एनर्जी दे सकेंगे। इसके साथ ही डॉ मोहित गुप्ता ने पॉवर ऑफ माइंड विषय पर चर्चा की। इस मौके पर मेडिकल एजुकेशन के डायरेक्टर डॉ देवाशीष भट्टाचार्य, आईएमए के प्रेसीडेंट डॉ सुशील मंडल, आईएमए के प्रेसीडेंट डॉ तपन विश्वास समेत 1800 चिकित्सक शामिल थे।
अंत में सभी अतिथियों को संस्थान की ओर से संस्था प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी द्वारा लिखित फीलिंग ग्रेट नामक पुस्तक भेंट कर संस्थान की अनेक गतिविधियों से अवगत कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *