Tue. Oct 27th, 2020

Bihar

इसीक्रम में मधुबनी के मंडल कारागार में संस्कार परिवर्तन एवं अपराध मुक्त जीवन विषय पर कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें बीके भगवान ने कहा कि कोई भी व्यक्ति जन्म से ही अपराधी नहीं होता बल्कि गलत संगत, गलत खानपान एवं नशीले पदार्थों के सेवन से वह अपराधी बन जाता है।
इस दौरान जेलर दिनेश कुमार ठाकुर, हेड कांस्टेबल करण सिंह एवं स्थानीय सेवाकेंद्र से बीके बृजराज एवं बीके इंद्रा मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *