Sun. Oct 25th, 2020

Baranagar, Kolkata, West Bengal

कोलकाता के बारानगर में द जॉय ऑफ लाइफ विषय के अंतर्गत दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें माउंट आबू से वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके शीलू को मुख्य वक्ता के रूप में आमंत्रित किया गया था. इस मौके पर स्थानीय सेवाकेंद्र प्रभारी बीके किरण, बीके पिंकी तथा बीके सदस्यों द्वारा बीके शीलू का भव्य स्वागत किया गया।

इस मौके पर बर्धमान यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर एस शंकर, बंग यूनिवर्सिटी के पूर्व वाईस चांसलर डॉ. गोपाल सी मिश्रा, भोबा पगला चौरिटेबल ट्रस्ट से आचार्य डॉ. गोपाल खेत्री, जेम्स चर्च से फादर गौरंगा हालदार समेत कई गणमान्य अतिथियों ने बीके शीलू का धन्यवाद व्यक्त किया साथ ही भविष्य में भी अपने उद्बोधन से सबको लाभान्वित करने का निवेदन किया।

गुरुनानक इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी के डायरेक्टर तथा प्रिंसिपल अभिजित सेनगुप्ता के निमंत्रण पर इंस्टिट्यूट के कैंपस में आयोजित कार्यक्रम में करीब 200 छात्र और शिक्षकों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर उन्होंने शिक्षा में अध्यातिम्क मूल्य आधारित ज्ञान की जरुरत तथा महत्व को दर्शाया, सात ही सभी को आध्यात्मिकता की ऑर प्रेरित किया वही मुन्सिपलिटी हॉल में बी.के. शीलू ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी को अपने असली सत्ता और परम सत्ता से परिचित करवाया साथ ही उन्होंने कहा की आज इंसान को खुश रहने के लिए कोई बजह चाहिए लेकिन खुशी कोई बाहरी चीज या परिस्थिति पर निर्भरशील नहीं हैं खुशी हमारी आतंरिक स्वभाब हैं जिसे हमें समझना हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *