Sun. Oct 25th, 2020

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर में सेवाकेंद्र द्वारा मानवता की सेवा के पच्चीस वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में विशाल कार्यक्रम का आयोजन किया गया यह कार्यक्रम रजत जयंती समारोह के रूप में मनाया गया जिसमें संस्थान की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, राज्यमंत्री जालम सिंह पटेल, राज्यसभा सदस्य कैलाश सोनी, नगरपालिका अध्यक्षा अर्चना दुबे समेत विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं से आये पदाधिकारी मुख्य रूप से शरीक हुए।
जनपद मैदान में जैसे ही दादी रतनमोहिनी का आगमन हुआ मानो जैसे मौजूद लोगो पर शांति व प्रेम की वर्षा होने लगी हो दादी का स्वागत चावरा विद्यापीठ के छात्र छात्राओ ने बहुत ही जोरदार तरीके से किया
दादी ने अपने मनोभाव व्यक्त करते हुये कहा कि जब इस संसार में अज्ञान का घोर अधियारा छा जाता है तब सभी आत्माओं के पारलौकिक माता-पिता भगवान शिव इस धरा पर अवतरित होते हैं और अपने अलौकिक ज्ञान और राजयोग से एक सुख, शांतिमय दुनिया की स्थापना करते हैं, वर्तमान समय वही स्थापना कार्य चल रहा है।
दादी के आगमन से पूर्व नगर में विशाल शोभायात्रा भी निकाली गई थी जिसमें श्रीराधे – कृष्ण की चैतन्य झाँकी द्वारा सेवाकेंद्र से जुड़े अनेक लोगों ने शहर में परमात्म ज्ञान एवं राजयोग द्वारा जीवन को सुखमय बनाने का आह्वान किया
चार दिन के इस महोत्सव में प्रतिदिन माउंट आबू से आये माइंड एंड मैमोरी ट्रेनर बीके शक्तिराज ने तनाव को अलविदा, खुशियों का बिग बाजार, स्मरण शक्ति बढ़ाने की लिए कई सत्र लिए तो वहीं छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से आए बीके सुभाष ने अपने संुदर गीतो के माध्यम से सभी का मनोरंजन किया
इस समारोह में रायपुर की क्षेत्रीय निदेशिका बीके कमला, अहमदाबाद के अंबावाड़ी सेवाकेंद्र प्रभारी बीके शारदा, इंदौर की क्षेत्रीय संयोजिका बीके हेमलता, ज्ञानामृत पत्रिका के संपादक बीके आत्मप्रकाश, भिलाई सेवाकेंद्र प्रभारी बीके आशा, बिलासपुर के टिकरापारा सेवाकेंद्र प्रभारी बीके मंजू, माइंड एंड मेमोरी टेªनर बीके शक्तिराज, स्थानीय सेवाकेंद्र प्रभारी बीके कुसुम, गाडरवारा सेवाकेंद्र प्रभारी बीके उर्मिला एवं अन्य बीके बहनों समेत संस्थान से जुड़े अनेक लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *