Wed. Oct 28th, 2020

Madhya Pradesh

धर्म के वास्तविक अर्थ से सभी लोगों को अवगत कराने के लिये इंदौर में हमसाज विषय पर दो दिवसीय रिलीजन्स कान्क्लेव का आयोजन किया गया जिसमें ब्रहमाकुमारीज़ को मुख्य वक्ता के रूप में आमंत्रित किया गया, इस अवसर पर संस्थान के मुख्यालय माउंट आबू से ज्ञानामृत पत्रिका की सहसंपादिका बीके उर्मिला, दिल्ली से आये आचार्य डॉ. लोकेश मुनि, राजयोग शिक्षिका बीके अनिता एवं विभिन्न धर्मों से आये प्रतिनिधियों ने दीप जलाकर सम्मेलन का आगाज किया।
धर्म मनुष्य को आस्था और श्रद्धा से जोड़े रखता है वह मनुष्य को पाप कर्मों से सदा बचाए रखता है ……….आज विश्व में अनेक धर्म हैं और सभी धर्मों में एकता और भाईचारे से रहने की शिक्षा दी गई …..लेकिन आज विडम्बना यह है कि धर्म कुछ समुदाय बनकर ही रह गये हैं ….धर्म के वास्तविक सुख का अनुभव करने के लिये हमें यह जानना आवश्यक है कि हम सबका असली मालिक कौन है ? और वह कब इस धरती पर आकर अपनी वास्तविक पहचान देता है…..इस कार्यक्रम में बीके उर्मिला ने धर्म और स्त्री की स्वतंत्रता विषय पर व्याख्यान दिया व सम्मेलन में अन्य धार्मिक वक्ताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किए।
इस धर्म सम्मेलन में विशेष रूप से आए आचार्य लोकेश मुनी महाराज ने इंदौर के दिव्य जीवन कन्या छात्रावास का भी अवलोकन किया और वहां पर रह रहीं 150 कन्याएं जो भौतिक के साथ साथ नैतिक व आध्यात्मिक शिक्षा ले रहीं है उन्हें देखकर अपनी खुशी जाहिर की। इसके पश्चात छात्रावास की संचालिका बीके करूणा, सह संचालिका बीके शकुंतला, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके अनीता ने उन्हें स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *