Sun. Oct 25th, 2020

Madhya Pradesh

कहते हैं कि यह इन्फारमेशन टेक्नालॉजी का जमाना है, अगर आपको किसी बात की जानकारी चाहिए तो बस गूगल पर जाइए और एंटर मारिए सूचना आपके सामने है अगर आप गूगल से पूछें कि परमात्मा कौन है कहां रहता है क्या करता है उसके साथ हमारा रिश्ता क्या है तो गूगल से मिलि जानकारी से आपका सर चकरा जायेगा लेकिन अगर आप प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान की दादीओं से पूछें तो वो आपको गूगल से तेज और सटीक जवाब आपको दे देंगी
दादी के भाषण में समाज की सर्व समस्याओं का कारण छुपा हुआ था उनका कहना था कि आज हम सब जानते तो हैं कि हम आत्मा है लेकिन प्रैक्टिल लाइफ में मानते नहीं हैं बस देह के धर्म में उलझे रहते हैं
अगर लोग इस बात को अपने जीवन में धारण करके चलें कि मैं आत्मा हूं, ईश्वर की संतान हूं तो देह और देह से जुड़ी सभी दिवारें घिर जायेंगी और सबके दिल में एक दूसरे के लिए करूणा, प्रेम और भाईचारें की भावना उत्पन्न हो जायेगी।
दादी रतन मोहिनी इन दिनों मध्यप्रदेश के जबलपुर में थी उनके पहुंचने पर शक्ति भवन के तरंग ऑडिटोरियम में विशाल कार्यक्रम का आयोजन किया गया था यह कार्यक्रम कंटगा कॉलोनी सेवाकेंद्र द्वारा आयोजित था जिसमें दादी का भव्य स्वागत किया गया
इस कार्यक्रम में विधायक तरूण भनोत, अशोक रोहाणी, लारेंस लोबो, पूर्व मंत्री अजय बिश्नोई, कमिश्नर जी एस टी प्रमोद अग्रवाल, पूर्व महाधिवक्ता मध्य प्रदेश रविनंदन सिंह, पूर्व महापौर सुशीला सिंह, मेडिकल कॉलेज के कुलपति डॉ. आर.एस शर्मा, शिव सेना प्रदेश अध्यक्ष ठानेश्वर महावर, उद्योगपति कैलाश गुप्ता समेत इंदौर ज़ोन निदेशिका बीके कमला, कटंगा कॉलोनी सेवाकेंद्र प्रभारी बीके विमला समेत कई वरिष्ठ बहनें भी मौजूद थी।
डॉ. आर.एस शर्मा दादी के भाषण से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने कहा कि मेरे लिए यह एक अजूबा है कि कैसे 94 साल की उर्म में कोई इतना गहरा और लगातार आधे घंटे तक कोई भाषण दे सकता है, दादी हम सब के लिए अनुकर्णीय हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *