Thu. Oct 17th, 2019

Jharkhand

झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने झारखंड के रांची में आयोजित महिलाओं के लिए विशेष स्वास्थ्य कार्यक्रम में कहा कि मैं ब्रह्माकुमारी बहनों का धन्यवाद करना चाहती हूं जो निरंतर विश्व परिवर्तन के लिए पिछले 82 सालों से प्रयास कर रही है।

फील गुड योगासन, प्राणायाम से स्वस्थ तन, राजयोग मेडिटेशन से शांत और शक्तिशाली मन विषय पर यह कार्यक्रम अद्भुत मातृत्व फॉग्सी की पहल पर रांची ऑब्स एंड गायनी सोसायटी तथा ब्रह्माकुमारीज़ के द्वारा रिम्स ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया था जिसमें वे अपने विचार रख रही थीं।

मातृत्व की ज़िम्मेदारी अद्भुत है। इस दायित्व को पूरा करने के लिए एक मां को खान-पान, विचार और व्यवहार इन सभी का बखूबी ख्याल रखना चाहिए। महिलाएं इसके बारे में जाने और गर्भवती होने पर किन चीजों का ध्यान रखें उसके बारे में जानकारी देने के उद्देश्य से आयोजित इस कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री सी.पी. सिंह, गायनी सोसायटी की अध्यक्षा डॉ. रेणुका सिन्हा ने कहा कि आध्यात्मिक ज्ञान व्यक्ति को सही मायने में श्रेष्ठ संयमित आदर्श और खुशी के साथ जीवन जीने की कला सिखाता है।

मुंबई से आई अदभुत मातृत्व की राष्ट्रीय संयोजिका और गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. शुभदा नील, कॉरपोरेट ट्रेनर बीके प्रोफेसर ई वी स्वामिनाथन ने भी गर्भवती महिलाओं को सुविचार एवं सुंसंस्कार संबंधित जानकारियां तथा पुस्कतें पढ़ने की सलाह दी साथ ही राजयोग से उस दौरान होने वाले लाभ की बताए और जैसा अन्न वैसा मन धारणा के तहत गर्भावस्था में शुद्ध शाकाहारी भोजन करना चाहिए।

3 दिवसीय इस कार्यक्रम में रांची सेवाकेंद्र प्रभारी बीके निर्मला ने सभी अतिथियों को मोमेंटों व ईश्वरीय सौगात भेंट की तथा डॉ. शुभदा नील ने एक्सरसाइज के माध्यम से शरीर को स्वस्थ बनाए रखने की जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *