Fri. Oct 30th, 2020

Chhattisgarh

योग आयोग का उद्देश्य आध्यात्म, स्वच्छता, नशामुक्ति जैसे कार्यों से राज्य को व राज्य के लोगों को खुशहाल बनाना है इसी लक्ष्य के साथ छत्तीसगढ़ योग आयोग, समाज कल्याण विभाग की ओर से भव्य योग जागरण यात्रा निकाली गई इस यात्रा का शुभारम्भ 5 समूहों में पांचों संभागीय मुख्यालय रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, जगदलपुर और अंबिकापुर से एक साथ किया गया जिसके अंतर्गत बिलासपुर संभाग में छत्तीसगढ़ योग आयोग की सदस्या व ब्रह्माकुमारीज के टिकरापारा सेवाकेंद्र प्रभारी बीके मंजू के नेतृत्व में योग जागरण यात्रा निकाली गई।

बिलासपुर में इस यात्रा का शंखनाद दयालबाग के महाराजा रणजीत सिंह सभागार में अतिथियों की शुभकामनाओं व उनकी हरी झण्डी के साथ सहमति देकर हुआ इस अवसर पर बिलासपुर के महापौर किशोर राय ने कहा कि मनुष्य कितना भी विकास कर ले लेकिन जब तक वह मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ नहीं होगा तब तक उसका संपूर्ण विकास नहीं होगा इसके साथ ही बीके मंजू ने योग जागरण यात्रा का उद्देश्य बताया।

कार्यक्रम में बिलासपुर विश्वविद्यालय के कुलपति जी डी शर्मा, पंडित सुंदरलाल शर्मा मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति वंशगोपाल सिंह, रेलवे पुलिस के वरिष्ठ सुरक्षा आयुक्त भवानी शंकरनाथ, आरोग्य भारती से आरएसएस के विभाग संचालक काशीनाथ गोरे, आर्ट ऑफ़ लिविंग के प्रमुख प्रशिक्षक किरण चावला, गायत्री परिवार के प्रमुख सीपी सिंह, पतंजली से हेमलता साहू समेत कई गणमान्य नागरिक शामिल हुए। अंत में समस्त जिलों से आए 250 योगयात्री, गुरूनानक स्कूल के बच्चों को योगाभ्यास कराया गया व अतिथियों को बीके बहनों के द्वारा सौगात व पौधे वितरित किए गए।

आपको बता दें कि पांचों संभागीय मुख्यालयों से निकली इस यात्रा का समापन 15 अगस्त को रायपुर में होगा और इस यात्रा के दौरान मार्ग में आने वाले सभी छोटे बड़ें गांवों में रूककर 1500 कार्यकर्ताओं के माध्यम से योग का महत्व, राज्य सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी स्वच्छता व व्यसनमुक्ति आदि की जानकारी दी जाएगी। जिसमें आयोग के मुख्य प्रशिक्षकों सहित ब्रह्माकुमारीज, पतंजली योग समिति, आर्ट ऑफ़ लिविंग, गायत्री परिवार और आरएसएस के स्थानीय कार्यकर्ता अपने अपने क्षेत्र में सहयोग प्रदान करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *