Mon. Oct 26th, 2020

Chhatarpur, Madhya Pradesh

लोगों के प्रति सामाजिक जागरुकता के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित विश्व दिव्यांग दिवस मनाया जाता है। हर साल इससे संबंधित अलग-अलग थीम रखी जाती है। समाज में आज भी दिव्यांगता को एक कलंक के तौर पर माना जाता है। ऐसे में लोगों में दिव्यांगता मामले की समझ बढ़ाने, दिव्यांगजनों के सामाजिक सम्मान की स्थापना, उनके अधिकारों और कल्याण पर ध्यान केंद्रित कराने के उद्देश्य के लिए यह दिवस कॉफी महत्वपूर्ण है।

इस वर्ष की थीम दिव्यांग समानता, संरक्षण एवं सशक्तिकरण के अन्तर्गत ब्रह्माकुमारीज़ दिव्यांग सेवा द्वारा कई शहरों में अभियान की शुरुआत कर दी गई। इसी के चलते मध्यप्रदेश के छतरपुर, राजगढ़ और रतलाम में कार्यक्रम आयोजित हुए।

 

छतरपुर सेवाकेन्द्र पर दिव्यांग बालक-बालिकाओं के लिए कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें उन्होंने विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। इस कार्यक्रम का उद्घाटन सी.डब्ल्यू.एस.एन दिव्यांग छात्रावास की बालिकाओं की प्रस्तुतियों से किया गया। इस अवसर पर अतिथि के रुप में पधारे सामाजिक न्याय विभाग में पदस्त प्रमुख कलाकार बी.के. पटैरिया, आई.ए. खान, सी.डब्ल्यू.एस.एन दिव्यांग छात्रावास से सुजीत यादव, प्रगतिशील छात्रावास से अनीता, पटवारी रचना राठौर एवं स्थानीय सेवाकेन्द्र से बीके रमा, बीके कल्पना, बीके रुपा ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई।

इस मौके पर बीके रमा ने अपने उद्बोधन ‘मनुष्य अपने आत्म बल के आधार पर जीवन के किसी भी लक्ष्य तक पहुंच सकता है, बशर्ते उसकी सोच सकारात्मक हो। जिसके बाद सभी बच्चों को उपहार भेंट किए गए।

 

 

आगे राजगढ़ नाका न.2 में सक्षम संस्था द्वारा विश्व दिव्यांग दिवस पर दिव्यांग सम्मान समारोह का आयोजन हुआ, जिसमें हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. ए.के. मल्ल, शिशु रोग विशेषज्ञ ओ.पी. त्रिपाठी, सक्षम संस्था के अध्यक्ष प्रताप सिंह सिसोदिया, ब्रह्माकुमारीज़ की ओर से राजगढ़ सेवाकेन्द्र की प्रभारी बीके मधु उपस्थित रही।

एंकरः इस अवसर पर अतिथियों ने दिव्यांगो को अपने उद्बोधन द्वारा प्रेरित किया व मन को सशक्त बनाने पर ज़ोर दिया, वहीं मौजूद दिव्यांगो को शॉल, पुष्प हार और श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। इस दौरान एक दिव्यांग महिला ने अपना सुनाया।

 

इसी क्रम में रतलाम में पत्रकार कॉलोनी सेवाकेन्द्र ने जन चेतना केन्द्र द्वारा संचालित रोटरी हॉल स्थित मूक बधिर दिव्यांग माध्यमिक विद्यालय में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ, इस अवसर पर सभी बच्चों को साइन भाषा द्वारा नैतिक मूल्य की शिक्षा, शारीरिक व्यायाम एवं परमपिता परमात्मा का परिचय दिया।

कार्यक्रम में सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके सविता ने सभी बच्चों को फलाहार एवं बिस्किट वितरित किया। इस मौके पर संस्था के अन्य लोग व स्टाफ एवं बीके गीता उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *