Tue. Nov 12th, 2019

Angul, Odisha

आगे ओड़िषा के अनगुल में भी ज़िला जेल में कर्म गति अपराधमुक्त जीवन विषय पर कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें माउण्ट आबू से आए वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक बीके भगवान ने बताया कि जो जैसा कर्म करते है वैसा ही फल उन्हें भोगना पड़ता है, बुरे कर्मों की शुरुआत बुरी आदतों से होती है इसलिए व्यसनों आदि के सेवन से बचना चाहिए।

इस अवसर पर जेलर रुशिनाथ नाइक, जेल शिक्षक सनातन खिलार, स्थानीय सेवाकेन्द्र की प्रभारी बीके मिनती की उपस्थिति में कैदियों को राजयोग का भी अभ्यास कराया गया।

 

इसी तरह नवकृष्ण शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय में आदर्ष शिक्षक विषय पर आयोजित कार्यक्रम में प्राचार्या डॉ. पुष्पलता साहू, सीनियर अध्यापिका द्रोपदी पटेल, सीनियर अध्यापक पूर्णचंद्र बेहरा, बीके मिनती समेत बड़ी संख्या में बच्चे मौजूद थे। इस दौरान बीके भगवान ने वर्तमान समय की बिगड़ती परिस्थितियों को देखते हुए समाज को सुधारने की बात कही, वहीं शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए आगे उन्होंने कहा कि शिक्षक वही है जो अपने जीवन की धारणाओं से दूसरों को शिक्षा दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *