Mon. Oct 19th, 2020

Ambikapur, Chhattisgarh

एक सशक्त समाज के लिए महिलाओं की भागीदारी अत्यंत आवश्यक है, नारी अपनी आंतरिक शक्तियों को जगाकर बहुत महान कार्य कर सकती है और ये सिर्फ राजयोग व आध्यात्म के ज़रिए ही संभव है क्योंकि आध्यात्म हमें अन्तर जगत से जोड़कर दिव्य गुणों को जगृत करता है और राजयोग परमात्मा से शक्ति प्रदान कराता है शायद यही वजह है कि जब-जब नारी शक्ति की मिसाल व विश्व की सभी महिलाओं की प्रेरणास्त्रोत का जिक्र होता है तो ब्रहाकुमारीज संस्थान की मुख्य प्रशासिका 104 वर्षीय राजयोगिनी दादी जानकी जी का नाम सबसे पहले आता है जिनका जीवन सभी महिलाओं के लिए आदर्श है इसलिए देश भर की सभी महिलाएं स्वयं की शक्तियों को पहचानकर कैसे उन्हें जागृत करें इसके लिए अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर संस्थान के विभिन्न सेवाकेंद्रों पर अनेक कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसमें सबसे पहली तस्वीर छ.ग के अंबिकापुर की है जहां डीएफओ प्रभाकर खलको, डीपीओ ज्योति मिंज समेत अनेक महिला अथिथियों ने अपने वक्तव्य से महिलाओं को प्रेरणा दी।
बड़ी संख्या में शहर की महिलाओं की उपस्थिति में यह कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ जिसका नेतृत्व सरगुजा संभाग की संचालिका बीके विद्या ने किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *