Thu. Oct 22nd, 2020

Alirajpur, Madhya Pradesh

लक्ष्य विहीन शिक्षा प्राप्त करना अनियंत्रित घोड़े के समान है, जो केवल दौड़ता तो रहता है परंतु उसकी कोई दिशा नहीं होती है परिस्थितियां तो स्वाभाविक रूप से प्रत्येक मनुष्य के जीवन में आती है, परंतु मानसिक दृढ़ता पूर्वक उनका सामना करते हुए लक्ष्य की ओर सदा गतिमान रहना यही अच्छे विद्यार्थी की निशानी है… ऐसी ही कुछ गहन मुद्दों पर मार्गदर्शन करने की लिए इंदौर से संस्थान के धार्मिक प्रभाग के राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य बीके नारायण ने मध्यप्रदेश अलीराजपुर स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया इस अवसर पर प्राचार्य संतोष चौरसिया उपस्थित थे।
ऐसे ही आगे बहारपुरा में शासकीय कन्या उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्राचार्या वंदना चौहान, जिला क्रीडा परिषद् में परिषद् के अध्यक्ष श्याम डाबर और पटेल पब्लिक स्कूल में वरिष्ठ अध्यापक विपिन पुरोहित की विशेष मौजूदगी में बीके नारायण ने विद्यार्थियों को विषय को रटने के बजाय अपने ढंग से प्रस्तुत करने की शक्ति से नए वस्तुओं के निर्माण और अनुसंधान करने की प्रवृत्ति को विकसित करने के लिए जीवन में आध्यात्मिक गुणों एवं मूल्यों को धारण करना आवश्यक बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *